Logo Patringa (350 × 100 px)

Dussehra 2023: दशहरा तारीख, मुहूर्त और पूजा की विधि,wishes and quotes in Hindi

दशहरा 2023
दशहरा 2023
दशहरा
24
अक्टूबर, 2023 (मंगलवार)

दशहरा मुहूर्त:

विजय मुहूर्त: 13:57:51 से 14:42:55 तक

अपराहन मुहूर्त: 13:12:47 से 15:27:59 तक


दशहरा हिन्दू धर्म में महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है, और यह समय है जब अच्छाई की जीत का प्रतीक मनाया जाता है। इसे विजयादशमी के नाम से भी जाना जाता है, और इसके पीछे कई महत्वपूर्ण कथाएँ और मान्यताएँ हैं। 2023 में दशहरा की तारीख और मुहूर्त क्या होंगे, इसके बारे में हम आपको जानकारी देंगे।

दशहरा मुहूर्त

दशहरा पर्व अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। इस तिथि का विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन भगवान श्रीराम ने रावण का वध किया था। दशहरा बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है।

दशहरा का मुहूर्त निर्धारित करने के लिए, हम निम्नलिखित नियमों का पालन करते हैं:

1. दशहरा पर्व केवल अपराह्न काल में मनाया जाता है। अपराह्न काल सूर्योदय के बाद दसवें मुहूर्त से लेकर बारहवें मुहूर्त तक की होती है।

2.यदि दशमी तिथि दो दिन है, तो केवल उस दिन विजयादशमी मनाई जाएगी जिस दिन अपराह्न काल हो।

3.यदि दशमी तिथि दो दिन है और अपराह्न काल दोनों दिन है, तो पहले दिन विजयादशमी मनाई जाएगी।

4.यदि दशमी तिथि दोनों दिन पड़ रही है, परंतु अपराह्न काल में नहीं, उस समय में भी यह पर्व पहले दिन ही मनाया जाएगा।


श्रवण नक्षत्र का भी दशहरा के मुहूर्त पर प्रभाव पड़ता है। श्रवण नक्षत्र को पवित्र माना जाता है और यह दशहरा के पर्व को और भी अधिक शुभ बनाता है

यदि दशमी तिथि दो दिन है और दोनों दिन अपराह्न काल है, तो उस स्थिति में श्रवण नक्षत्र जिस दिन अपराह्न काल में हो, उस दिन विजयादशमी मनाई जाएगी।

यदि दशमी तिथि दो दिन है और अपराह्न काल केवल पहले दिन है, तो यदि दूसरे दिन दशमी तिथि पहले तीन मुहूर्त तक विद्यमान है और श्रवण नक्षत्र दूसरे दिन के अपराह्न काल में व्याप्त है, तो दूसरे दिन विजयादशमी मनाई जाएगी।

यदि दशमी तिथि पहले दिन के अपराह्न काल में है और दूसरे दिन तीन मुहूर्त से कम है, तो पहले दिन ही विजयादशी त्यौहार मनाया जाएगा।

उदाहरण

2023 में, दशमी तिथि 23 अक्टूबर को शाम 5:44 मिनट से शुरू होगी और 24 अक्टूबर को दोपहर 3:14 मिनट तक रहेगी।

  • यदि हम पहले नियम को लागू करें, तो हम देखेंगे कि दशमी तिथि 24 अक्टूबर को अपराह्न काल में है। इसलिए, 2023 में विजयादशमी 24 अक्टूबर को मनाई जाएगी।
  • यदि हम श्रवण नक्षत्र के प्रभाव को लागू करें, तो हम देखेंगे कि श्रवण नक्षत्र 24 अक्टूबर को अपराह्न काल में है। इसलिए, 2023 में विजयादशमी 24 अक्टूबर को मनाई जाएगी।

  • निष्कर्ष

    दशहरा मुहूर्त निर्धारित करने के लिए, हम पहले नियम को लागू करते हैं। यदि पहले नियम से कोई निर्णय नहीं लिया जा सकता है, तो हम श्रवण नक्षत्र के प्रभाव को लागू करते हैं। दशहरा का मुहूर्त शुभ माना जाता है और इस दिन पूजा-पाठ करने से विशेष लाभ प्राप्त होते हैं।


    पूजा की विधि:

    1. पूर्वोत्तर दिशा में एक पवित्र स्थान चुनें। इस स्थान को साफ करें और उस पर अष्टदल चक्र बनाकर उस पर चंदन का लेप करें।

    2.संकल्प लें कि आप देवी अपराजिता की पूजा अपने या परिवार के लिए कर रहे हैं।।

    3.अष्टदल चक्र के मध्य में देवी अपराजिता का आह्वान करेंं।

    4.दायीं ओर माँ जया और बाईं ओर माँ विजया का आह्वान करें।

    5.तीनों देवियों की शोडशोपचार पूजा करें।।

    6. प्रार्थना करें कि देवी आपके जीवन में सुख, समृद्धि और सफलता प्रदान करें।

    7.पूजा के अंत में प्रणाम करें।

    दशहरा की कथा

    • पौराणिक कथा के अनुसार, दशहरा पर भगवान श्रीराम ने रावण का वध किया था। इस दिन रावण के पुतले को जलाया जाता है ताकि हम अपने अंदर के बुरे गुणों को नष्ट कर सकें।

    • अर्जुन ने अपनी गांडीव धनुष को शमी वृक्ष पर छुपाया था। एक बार जब उस राजा के पुत्र ने अर्जुन से मदद मांगी तो अर्जुन ने शमी वृक्ष से अपना धनुष वापिस निकालकर दुश्मनों को हराया था।

    • एक अन्य कथानुसार जब भगवान श्रीराम ने लंका की चढ़ाई के लिए अपनी यात्रा का श्रीगणेश किया तो शमी वृक्ष ने उनके विजयी होने की घोषणा की थी.

    • मैसूर में दशहरा का त्यौहार बहुत ही भव्य तरीके से मनाया जाता है। इस दौरान राजा के महल में विशेष आयोजन किए जाते हैं। देवी दुर्गा की प्रतिमा को नगर भ्रमण कराया जाता है।

    दशहरा 2023 की शुभकामना संदेश (Dussehra Wishes in Hindi)

    • दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं मेरे दोस्त! बुराई पर अच्छाई की जीत हो और आपके जीवन में खुशहाली और सफलता का आशीर्वाद हो। (Happy Dussehra, my friend! May good triumph over evil and may your life be blessed with happiness and success.)

    • दशहरा के पावन पर्व पर आपको और आपके प्रियजनों को ढेरों शुभकामनाएं। भगवान राम आपको सदैव आशीर्वाद दें। (Happy Dussehra to you and your loved ones! May Lord Rama always bless you.)

    Dussehra wish image 6

    •दशहरे के शुभ अवसर पर आपको और आपके परिवार को ढेरों शुभकामनाएं। आपके जीवन में सुख, शांति और समृद्धि का आशीर्वाद हो। (Happy Dussehra to you and your family! May your life be blessed with happiness, peace, and prosperity.

    • इस दशहरे के शुभ दिन पर आपको ढेरों शुभकामनाएं। आपके जीवन में सभी बुराइयों का नाश हो और सभी अच्छाइयों का विकास हो। (Happy Dussehra to you! May all evil be destroyed in your life and may all good things flourish.)

    • दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं मेरे दोस्त! आपके जीवन में सभी बाधाओं को दूर करें और सभी सफलताओं को प्राप्त करें। (Happy Dussehra, my friend! May all obstacles in your life be removed and may you achieve all successes.)

    • इस दशहरे पर, अपने भीतर के रावण को जलाएं और अच्छाई की जीत का जश्न मनाएं। (On this Dussehra, burn the Ravana within you and celebrate the victory of good.)

    Dussehra wish image 1

    • दशहरा बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। इस दिन, हम सभी को अपने जीवन में बुराई से लड़ने और अच्छाई को अपनाने का संकल्प लेना चाहिए। (Dussehra is a symbol of the victory of good over evil. On this day, we should all resolve to fight evil in our lives and embrace good.)

    • दशहरा हमें यह सिखाता है कि बुराई कितनी भी शक्तिशाली क्यों न हो, अच्छाई हमेशा जीतती है। इस दिन, हम सभी को अपने जीवन में अच्छाई के मार्ग पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। (Dussehra teaches us that no matter how powerful evil is, good always wins. On this day, we should all resolve to follow the path of good in our lives.)

    • दशहरा एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है। इस दिन, हम सभी को अपने जीवन में नए लक्ष्य निर्धारित करने चाहिए और उन्हें प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करनी चाहिए। (Dussehra is a symbol of the beginning of a new era. On this day, we should all set new goals in our lives and work hard to achieve them.)

    Dussehra wish image 5

    • दशहरा हमें यह सिखाता है कि हमें अपने जीवन में कभी हार नहीं माननी चाहिए। भले ही कितनी भी चुनौतियां आएं, हमें हमेशा अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रयास करना चाहिए। (Dussehra teaches us that we should never give up in our lives. No matter how many challenges come our way, we should always strive to achieve our goals.)

    दशहरा 2023की बधाई संदेश - Dussehra Quotes in Hindi

    • "रावण के अंदर का रावण जलाने के लिए, पहले अपने अंदर के रावण को जलाना जरूरी है।"

    • "रावण के दस सिर दस बुराइयों के प्रतीक हैं। इस दशहरे पर, हम सभी को अपने भीतर के रावण को जलाकर उन दस बुराइयों को नष्ट करना चाहिए।"

    • "दशहरा एक त्योहार है जो हमें नई शुरुआत का संदेश देता है। इस दिन, हमें सभी पुरानी बातों को भूलकर अपने जीवन में एक नए अध्याय की शुरुआत करनी चाहिए।"

    • "दशहरा हमें यह सिखाता है कि हमें अपने जीवन में कभी भी अहंकार नहीं करना चाहिए। अहंकार का पतन निश्चित है।"

    Dussehra wish image 7

    • "रावण दहन का अर्थ केवल इतना ही नहीं है कि हम रावण का पुतला जलाएं, बल्कि यह अर्थ भी है कि हम अपने भीतर के रावण को जलाएं। इस दशहरे पर, हम सभी को अपने अहंकार, क्रोध, लोभ, ईर्ष्या और घृणा जैसी बुराइयों को जलाकर अपने भीतर के रावण को मार डालना चाहिए।"

    • "दशहरा हमें यह सिखाता है कि हमें कभी भी किसी को भी कम नहीं आंकना चाहिए। भले ही कोई कितना भी कमजोर दिखाई दे, वह शक्तिशाली हो सकता है। हमें हमेशा दूसरों का सम्मान करना चाहिए और उन्हें समान समझे।"

    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Scroll to Top